Jharkhand cyber crime
Share This Post

Jharkhand cyber crime: झारखंड की पुलिस ने 24 साल के एक शातिर साइबर अपराधी को गिरफ्तार किया है, जो 18 लाख की हेक्टर कार में घूमता था। यह युवक न केवल महंगी कारों का मालिक है, बल्कि उसके पास करोड़ों की संपत्ति भी है। उसकी गिरफ्तारी के बाद से इलाके में सनसनी फैल गई है।

Jharkhand cyber crime: करोड़ों की संपत्ति का मालिक बना 24 वर्षीय युवक

यह कहानी है हजारीबाग के 24 वर्षीय सोनू कुमार वर्मा की, जिसने महज कुछ सालों में साइबर अपराध के जरिए करोड़ों की संपत्ति बना ली। सोनू के पास 18 लाख की हेक्टर कार, 50 लाख का फ्लैट, 50 लाख का ट्रक और करोड़ों की जमीन है। सोनू ने साइबर अपराध के जरिए इतनी बड़ी संपत्ति अर्जित की है, जिसे देखकर हर कोई हैरान है।

गुप्त सूचना पर गिरिडीह पुलिस ने सोनू वर्मा को किया गिरफ्तार

Jharkhand cyber crime: गिरिडीह पुलिस ने सोनू कुमार वर्मा को गपैय गांव से गुप्त सूचना के आधार पर गिरफ्तार किया। पुलिस के अनुसार, सोनू एक शातिर साइबर अपराधी है, जो वर्षों से साइबर अपराध की दुनिया में सक्रिय है। गिरिडीह के एसपी दीपक कुमार शर्मा को सूचना मिली थी कि सोनू गपैय गांव में साइबर अपराध कर रहा है। इसके बाद साइबर डीएसपी आबिद खान के नेतृत्व में एक छापेमारी दल का गठन किया गया।

साइबर डीएसपी के नेतृत्व में बनी टीम ने सोनू को किया गिरफ्तार

साइबर डीएसपी के नेतृत्व में बनी टीम ने गपैय गांव में छापेमारी करके सोनू कुमार वर्मा को गिरफ्तार किया। पुलिस को लंबे समय से सोनू की तलाश थी। सोनू के खिलाफ गिरिडीह के नगर थाना, मुफस्सिल थाना, गिरिडीह साइबर थाना और मुंबई के वर्ली में भी साइबर अपराध के मामले दर्ज हैं। सोनू के पास से पुलिस ने एक सिम कार्ड और एक मोबाइल फोन जब्त किया है।

Jharkhand cyber crime: सोनू कुमार वर्मा का ठगी करने का तरीका

पूछताछ के दौरान, सोनू ने बताया कि वह सुडोकू ऐप के माध्यम से लड़कियों से न्यूड वीडियो कॉलिंग करवाने और लड़कियां उपलब्ध कराने का झांसा देकर लोगों से ठगी करता था। वह गूगल पर फोन पे और गूगल पे के कस्टमर केयर का हेल्पलाइन नंबर पंच करके कॉल करने वाले लोगों से भी ठगी करता था। कैश बैक देने के नाम पर लिंक बनाकर साइबर अपराधियों को देता और ठगी करता था।

सोनू की करोड़ों की संपत्ति का ब्योरा

Jharkhand cyber crime: गिरिडीह के एसपी दीपक कुमार शर्मा ने बताया कि गिरफ्तार साइबर अपराधी सोनू कुमार वर्मा साइबर अपराध के जरिए करोड़ों की संपत्ति अर्जित कर चुका है। उसके पास 18 लाख की एमजी हेक्टर कंपनी की कार (जेएच 10- 2070), 50 लाख रुपए मूल्य का 16 चक्का ट्रक, यामाहा एफजेड कंपनी की बाइक (जेएच 11 – 6175) है, जिसकी कीमत करीब 2 लाख रुपए है। इसके अलावा, उसके पास 2 लाख रुपए की इलेक्ट्रिक स्कूटी, हजारीबाग में एक 50 लाख का फ्लैट और बेंगाबाद के साठीबाद एवं महुआर में एक-एक एकड़ जमीन है, जिसकी कीमत करीब 2 करोड़ रुपए है। जमीन उसने अपने परिजनों के नाम पर खरीदी है।

पुलिस की जांच और आगे की कार्रवाई

Jharkhand cyber crime: पुलिस अभी भी सोनू की संपत्ति की जांच कर रही है। पुलिस को शक है कि सोनू ने और भी कई प्रॉपर्टी खरीदी है, जिसकी जांच की जा रही है। पुलिस ने कहा है कि सोनू के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी और साइबर अपराधियों के खिलाफ अभियान जारी रहेगा।

Jharkhand cyber crime: निष्कर्ष

Jharkhand cyber crime: सोनू कुमार वर्मा की गिरफ्तारी ने झारखंड में साइबर अपराध की एक बड़ी समस्या को उजागर किया है। साइबर अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जरूरत है ताकि इस प्रकार की घटनाओं को रोका जा सके। पुलिस की तत्परता और कुशलता ने एक बड़े साइबर अपराधी को गिरफ्तार कर समाज को एक बड़ी राहत दी है।

यह भी पढ़ें

By JharExpress

JharExpress is hindi news channel of politics, education, sports, entertainment and many more. It covers live breaking news in India and World

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *