Kukrail River Lucknow
Share This Post

Kukrail River Lucknow: लखनऊ विकास प्राधिकरण (LDA) ने कई दशक से कुकरैल नदी पर अवैध रूप से बसे अकबरनगर पर बड़ी कार्रवाई करते हुए शनिवार को 256 अवैध निर्माणों को गिरा दिया। एलडीए की इस तेज कार्रवाई से अनुमान लगाया जा रहा है कि रविवार रात तक अकबरनगर पूरी तरह जमींदोज हो जाएगा।

Kukrail River Lucknow: शनिवार को ध्वस्तीकरण की कार्रवाई

शनिवार को एलडीए ने अकबरनगर प्रथम में 256 अवैध निर्माणों को ध्वस्त कर दिया। इसके अलावा, 65 परिवारों के सामान को बसंत कुंज योजना में बने प्रधानमंत्री आवास तक पहुंचाकर उन्हें मौके पर ही कब्जा दिला दिया गया। यह कार्रवाई सोमवार से ही शुरू हो गई थी, जब एलडीए ने अकबरनगर द्वितीय के 1068 अवैध आवासीय निर्माणों को चिह्नित किया था और तोड़ने की प्रक्रिया शुरू की थी।

तेजी से बढ़ी कार्रवाई: रविवार रात तक पूरा होगा ध्वस्तीकरण

Kukrail River Lucknow: एलडीए ने शनिवार रात तक अकबरनगर प्रथम और द्वितीय को मिलाकर कुल 870 अवैध निर्माणों को ध्वस्त कर दिया। अब लगभग 198 अवैध निर्माण ही शेष रह गए हैं। एलडीए की टीम ने शनिवार को 12 जेसीबी और 15 पोकलैंड मशीनों की मदद से कार्रवाई की थी। यदि रविवार को भी इसी गति से कार्रवाई जारी रही, तो रात आठ बजे तक अकबरनगर प्रथम भी पूरी तरह से ध्वस्त हो जाएगा।

Kukrail River Lucknow: प्रधानमंत्री आवास का कब्जा

Kukrail River Lucknow: अकबरनगर प्रथम में रहने वाले अधिकांश लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत नए मकान का कब्जा भी दिया जा चुका है। अब तक 1036 लोगों को उनके नए आवास का कब्जा मिल गया है और सभी 1800 परिवारों को आवंटन किया जा चुका है। नगर निगम की टीम ने इन परिवारों का सामान बसंत कुंज योजना तक पहुंचाने में मदद की है।

Kukrail River Lucknow: रहीमनगर में अगली कार्रवाई

रविवार को अकबरनगर के ध्वस्तीकरण के बाद एलडीए रहीमनगर की ओर कुकरैल नदी पर हुए अवैध कब्जे को मुक्त कराने की कार्रवाई शुरू करेगा। इसके लिए गठित टीम ने मौके पर जाकर सर्वे किया है। सर्वे रिपोर्ट आते ही बड़े-बड़े अवैध निर्माणों को गिराया जाएगा।

अवैध निर्माणों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई

Kukrail River Lucknow: एलडीए की इस कार्रवाई से यह स्पष्ट हो गया है कि अब अवैध निर्माणों के खिलाफ सख्त कदम उठाए जाएंगे। यह कदम न केवल अवैध निर्माणों को रोकने के लिए है, बल्कि शहर की सुन्दरता और योजनाबद्ध विकास को सुनिश्चित करने के लिए भी है। एलडीए की इस कार्रवाई से यह संदेश भी गया है कि अब अवैध निर्माणों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Kukrail River Lucknow: LDA की सख्त नीति

एलडीए की इस कार्रवाई ने शहर के अन्य हिस्सों में भी अवैध निर्माणकर्ताओं को चेतावनी दी है। LDA की सख्त नीति का उद्देश्य है कि सभी निर्माण कार्य नियमों के अनुसार और कानूनी ढंग से किए जाएं।

अवैध निर्माणों के ध्वस्तीकरण की प्रक्रिया

Kukrail River Lucknow: एलडीए ने अवैध निर्माणों के ध्वस्तीकरण की प्रक्रिया को तेजी से आगे बढ़ाया है। इस प्रक्रिया में पहले अवैध निर्माणों की पहचान की जाती है, फिर नोटिस जारी किया जाता है और इसके बाद ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की जाती है। यह सुनिश्चित किया जाता है कि इस कार्रवाई में कोई कानूनी अड़चन न आए।

Kukrail River Lucknow: जनता का समर्थन

एलडीए की इस कार्रवाई को जनता का भी समर्थन मिल रहा है। लोग समझ रहे हैं कि यह कदम शहर के विकास और उनकी सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए उठाया गया है। अवैध निर्माणों के ध्वस्तीकरण से जहां एक ओर शहर की योजना में सुधार होगा, वहीं दूसरी ओर लोगों को सुरक्षित और कानूनी आवास मिल सकेगा।

भविष्य की योजनाएं

Kukrail River Lucknow: एलडीए की यह कार्रवाई सिर्फ शुरुआत है। भविष्य में भी ऐसे कदम उठाए जाएंगे जिससे शहर में अवैध निर्माणों पर पूरी तरह से रोक लगाई जा सके। एलडीए की योजना है कि सभी अवैध निर्माणों को चिह्नित कर उन्हें ध्वस्त किया जाए और कानूनी निर्माणों को बढ़ावा दिया जाए।

Kukrail River Lucknow: निष्कर्ष

Kukrail River Lucknow: लखनऊ में एलडीए की यह कार्रवाई अवैध निर्माणों के खिलाफ एक महत्वपूर्ण कदम है। इससे न केवल शहर का विकास सुचारू रूप से होगा बल्कि लोगों को भी सुरक्षित और कानूनी आवास मिल सकेगा। एलडीए की इस कार्रवाई से यह स्पष्ट संदेश गया है कि अब अवैध निर्माणों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और इसके खिलाफ सख्त कदम उठाए जाएंगे।

यह भी पढ़ें:

By JharExpress

JharExpress is hindi news channel of politics, education, sports, entertainment and many more. It covers live breaking news in India and World

One thought on “Kukrail River Lucknow: लखनऊ में बुलडोजर ने तोड़ा 256 घर”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *