jharkhand naxal
Share This Post

jharkhand naxal : नए साल में झारखंड पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। नक्सलियों के खिलाफ झारखंड पुलिस और सीआरपीएफ का बड़ा अभियान जारी है। इस कड़ी में झारखंड पुलिस एवम सीआरपीएफ के समक्ष आठ नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है। आत्मसमर्पण करने वालों में एक करोड़ का इनामी नक्सली मिसिर बेसरा ग्रुप्स के आठ नक्सली भी शामिल हैं। कोल्हान जंगली क्षेत्र में एक करोड़ इनामी नक्सली मिसिर बेसरा और अनिल दा का खौफ है। नए साल की शुरूआत में ही झारखंड पुलिस और सीआरपीएफ के सामने आठ नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया।

1300 से ज्यादा उग्रवादियों को अभियान के तहत पकड़ा गया

आईजी अभियान एवी होमकर ने बताया कि झारखंड पुलिस और सीआरपीएफ का बहुत बड़ा दिन है। आज ही के दिन हमारे दो साथी नक्सली हमले में शहीद हो गए थे। नक्सलियों के खिलाफ एक निर्णायक लड़ाई शुरू की गई थी। आईजी अभियान ने बताया कि 1300 से ज्यादा उग्रवादियों को अभियान के तहत पकड़ा गया है। 106 इनामी नक्सलियों को गिरफ्तार करने में पुलिस को सफलता प्राप्त हुई है। 30 नक्सलियों को मुठभेड में मार गिराया गया। 56 उग्रवादी ने अभी तक आत्मसमर्पण किया है। इनमें कई उग्रवादियों के ऊपर एक करोड़ इनाम रखा गया था। डीजी के नेतृत्व में एक अभियान की शुरुआत की गई थी।

आठ नक्सली में से तीन महिला

भाकपा माले के गढ़ यानी सारंडा कोल्हान ट्राइजेन और पारसनाथ, बूढ़ा पहाड़ क्षेत्र में अभियान चलाया गया है। झारखंड में उग्रवादी संगठन मिसिर बेसरा, अनिल दा और कई कुख्यात नक्सली के क्षेत्र में पुलिस को सफलता मिली है। आठ नक्सली जो मारक दस्ता से जुड़े हुए थे उसने आत्मसमर्पण किया है। पिछले दो वर्षो में जो अभियान चलाया जा रहा है और झारखंड सरकार की नीति चलाई जा रही है उसका परिणाम निकला है। आठ नक्सली में से तीन महिला नक्सली सरिता सरदार, सोमवारी कुमारी और तुंगीर पूर्ति जिनकी उम्र 20 से 24 साल की उम्र का है।

आईजी अभियान एवी होमकर और आईजी पंकज कंबोज द्वारा सभी नक्सली को शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया। आठ नक्सलियों में तीन महिला नक्सली भी शामिल हैं। सभी आठ नक्सलियों को पुष्प गुच्छ भेंट देकर और शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया। झारखंड पुलिस और सीआरपीएफ अधिकारी के समक्ष आत्मसमर्पण करने वाले सभी आठ नक्सली कोल्हान क्षेत्र से जुड़े हुए हैं।

इन्हे किया गया गिरफ्तार

jharkhand naxal : एक करोड़ के इनामी नक्सली मिसिर बेसरा उर्फ सागर और पतिराम मांझी उर्फ अनल दस्ता के आठ सदस्यों ने आइजी रांची के कार्यालय में आत्मसमर्पण किया है। आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों में जयराम बोदरा उर्फ जूरिया बोदरा (माईलपी, सोनुवा, पश्चिमी सिंहभूम, चाइबासा), सरिता उर्फ मुंगेली सरदार उर्फ सरिता सरदार उर्फ सानिता (रायजामा, रायगनिया, खरसावां, सरायकेला-खरसावां), मारतम आंगरिया (कतम्बा, गोइलकेरा, पश्चिमी सिंहभूम), सोमवारी कुमारी उर्फ टोनी (आराहंगा, तमाड़, रांची), तुंगीर पूर्ति (रेंगदहातू, बंगलसाईं, टोंटो, पश्चिमी सिंहभूम), पातर कोड़ा (रेंगदहातू, टोंटो, पश्चिमी सिंहभूम), कुसनू सिरका उर्फ कार्तिका सिरका (बुलानी टोला, डबलिंग, हाटिंग, बड़बिल, क्योंझर ओडिशा) व संजू पूर्ति उर्फ रोशनी पूर्ति (चिड़ियाबेडा टोला, चटुदा, मुफ्फसिल, पश्चिमी सिंहभूम, चाइबासा) शामिल हैं।

नक्‍सलियों के नाम दर्ज है एक से बढ़कर एक केस दर्ज

jharkhand naxal : जयराम बोदरा उर्फ जूरिया के खिलाफ पश्चिम सिंहभूम के सोनुआ थाना, चक्रधरपुर, गोइलकेरा, कराईकेला व टेबो थाना में कुल 11 कांड दर्ज हैं। ये कांड हत्या, रंगदारी, धमकी और आगजनी से संबंधित हैं। महिला नक्सली सरिता उर्फ मुंगेली सरदार के खिलाफ टोकलो थाना, खरसावां व कुचाई में छह कांड दर्ज हैं। सभी कांड आर्म्स एक्ट, पुलिस पर हमला आदि से संबंधित हैं। 

किसी के खिलाफ दो, तो किसी पर पांच केस है दर्ज

jharkhand naxal : नक्सली सोमवारी कुमारी उर्फ टोनी के खिलाफ चाईबासा वह सरायकेला खरसावां जिले में दो कांड दर्ज हैं। एक कुचाई व दूसरा टोकलो थाना में। नक्सली मारतम अंगरिया के खिलाफ पश्चिम सिंहभूम जिले के गोइलकेरा थाने में कुल 5 कांड दर्ज हैं। तुंगीर पूर्ति पर टोंटो थाना में जानलेवा हमला से संबंधित एक केस दर्ज है। नक्सली पातर कोड़ा के खिलाफ पश्चिम सिंहभूम के टोंटो थाना में एक केस दर्ज है। बाकी दो के नाम किसी थाने में कोई केस दर्ज नहीं है। हालांकि, ये नक्‍सली संगठन में सक्रिय थे।

इसे भी पढ़ें : Jharkhand IAS Officer Pooja Singhal Get Bail, पूजा सिंघल को जमानत

YOUTUBE

By JharExpress

JharExpress is hindi news channel of politics, education, sports, entertainment and many more. It covers live breaking news in India and World

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *